2 lines shikayat shayari in hindi | pyar me shikayat shayari

2 lines shikayat shayari in hindi :- हेल्लो friends फिर से आपका सवागत हे हमारे एक और नये tera intezaar quotes in hindi , वाली पोस्ट में । इस पोस्ट में आपको मिलेगा,2 lines shikayat shayari in hindi,shikayat nahi zindagi se shayari,koi shikayat nahi shayari,shikayat kare bhi to kisse shayari,shikayat shayari hindi,pyar me shikayat shayari,shikayat shayari image,shikayat par shayari,na koi shikwa na koi shikayat shayari |

shikayat kare bhi to kisse shayari

हालात किस्मत और वक़्त की बात है,
वरना मैं इतना बुरा नहीं जितना तुम सोच रही हो !!
वो क्यूँ नहीं समझता मेरी ख़ामोशी को,
क्या प्यार का इजहार करना जरुरी है !!
2 lines shikayat shayari in hindi
क्यूँ सताते हो हमें बैगानो की तरह,
कभी तो चाहो चाहने वालों की तरह !!
तुम्हारी मोहब्बत भी कितनी कमाल की है,
सबके लिए है बस मेरे लिए ही नहीं !!
बहूत सवाल करती हो तुम,
इतना प्यार ही कर लेती तो जवाब मिल जाते !!

shikayat shayari in hindi 

तेरे ‪करीब‬ आकर बडी ‪उलझन‬ में हूँ,
मैं ‪गैरों‬ में हूँ या‬ तेरे ‪अपनो‬ में हूँ !!
शिकायत करने से खामोश‬ रहना ‪बेहतर‬ है,
क्यूंकि जब ‪किसी‬को ‎फर्क‬ नहीं पड़ता तो शिकायत‬ कैसी !!
तुम्हारे नाम के निचे #Online नहीं,
#Typing देखने को जी चाहता है !!
हद से बढ़ गया है तेरा नज़र अदाज करना,
ऐसा सलुक न करो की हम भुलने पे मजबुर हो जाये !!
ठहर जाते तो शायद मिल जाते हम तुम्हें,
इश्क में इन्तजार किया करते है जल्दबाजी नहीं !!

shikayat nahi zindagi se shayari 

बहुत शौक है न तुझे बहस का,
आ बैठ और बता मोहब्बत क्या है !!
हमें अच्छा नहीं लगता,
तुम्हें कोई और अच्छा लगे !!
2 lines shikayat shayari in hindi
काश प्यार में भी कुछ कायदे होते,
जब भी मैं चाहूँ और तुम मेरे करीब होते !!
ये सोचकर उसकी हर बात को सच मान लेते थे,
की इतने खुबसूरत लब झूठ कैसे बोल सकते है !!

koi shikayat nahi shayari 

काश बदल जाये ये वक़्त भी,
और उसे जरूरत हो मेरी पहले की तरह !!
तुम्हें मालूम ही था की मैं तन्हा नहीं रह सकता,
मेरे साथ रुक जाते मेरी आदत बदलने तक !!
मेरी तक़दीर मेरे साथ नहीं,
वरना सारा दिन तुझे बाहो में बसा के रखता !!
तुम ज़िन्दगी की छोड़ो और अपनी बात करो,
उससे भी कहीं ज्यादा तुमने सताया है मुझे !!
क्यूँ खेलते हो तुम हमसे मोहब्बत का खेल,
बात बात में रूठ तुम जाते हो और टूटकर बिखर हम जाते है !!

pyar me shikayat shayari 

मुझसे खुशनसीब है मेरे लिखे ये लफ्ज,
जिनको कुछ देर तक पढेगी तेरी निगाहें !!
इन होंठो की भी न जाने क्या मजबूरी होती है,
वही बात छुपाते है जो कहनी जरुरी होती है !!
तुम्हारे साथ चलते है हजारों चाहने वाले,
मेरे होने या ना होने से क्या फर्क पड़ता है !!
रुक रुक के लोग देख रहे है मेरी तरफ,
तुमने जरा सी बात को अखबार बना दिया !!
एक बार गले मिलकर रोने जो दिया होता,
एक पल तो मोहब्बत को मैंने भी जिया होता !!

na koi shikwa na koi shikayat shayari 

काश अपनी भी ऐसी ही एक रात आती,
मैं देखता उसका ख्वाब और वह सच में आ जाती !!
शिकवा तो ऐसे करते है,
जैसे हम ही नसीब लिखते है !!
मेरा दिल कैसे उदास ना हो यारों,
वो #Online तो है मगर गैरों के लिए !!
2 lines shikayat shayari in hindi 1
मेरी ख़ामोशी में सन्नाटा भी है शोर भी है,
तूने देखा ही नहीं आँखों में कुछ और भी है !!
मेरी नींद हराम करने वाले,
अब तेरे ख्वाब कौन देखेगा !!

shikwa shikayat shayari in hindi 

अकेला छोड़ दो मुझे या फिर मेरे हो जाओ,
मुझे अच्छा नहीं लगता कभी पाना कभी खोना !!
जिन्दगी मिली भी तो है मुझे सिर्फ दो दिन की,
ये दो दिन भी बीत रहे है उसको मनाने में !!
एक पहेली है सुलझाओगे ?
मेरे हो या नहीं ये बतलाओगे ?
हम तो इस वास्ते चुप है की कोई तमासा ना बने,
तुम समजते हो की मुझे तुमसे गिला कुछ भी नहीं !!

ab koi shikayat nahi 

मेरी बेकरारी देखी है तूने कभी सब्र भी देख,
मैं इतना खामोश हो जाऊँगी की तू चिल्ला उठेगा !!
जितना रूठना है आज रूठ ले पगली,
जिस दिन हम रूठ गए...तू जिना भूल जायेगी !!
आज तो बस साफ़ साफ़ बता दो,
मेरा होना है या मुझे खोना है !!
तुम हमें जान पाओ तुम्हें इतनी फ़ुरसत कहाँ थी,
और हम तुम्हें भुला पाते इतनी हममें जुररत कहाँ थी !!
उधार रहा मुझ पर वो वक़्त तेरा,
जब हुआ करता था तुझ पर सिर्फ हक़ मेरा !!

shikayat love shayari 

क्यूँ कर रहे हो भला तुम बगावत खुद से,
मान क्यों नहीं लेते की तुम्हे भी है मोहब्बत मुझसे !!
तरस जाओगे हमारे लबों से सुनने को एक एक लफ्ज,
जब हम प्यार की बातें तो क्या शिकायत भी नहीं करेंगे !!
जब रिश्तों में ग़लतफ़हमियाँ बढ़ जाए तो,
सच्चा प्यार भी झूठा लगने लगता है !!
ये तेरी आधी अधूरी मोहब्बत मुझे तकलीफ देती है,
ना खुद मरती है और ना ही मेरी जान लेती है !!
आज‬ उसने ‪एक अजीब‬ सवाल ‪कर‬ दिया मुझसे,
मरते तो‬ मुझ‬ पर हो ‎फिर‬ जीते ‪किसके‬ लिए हो !!
अब मैं ‪कोई‬ भी बहाना‬ नहीं ‎सुनने‬ वाला,
तुम मेरा ‪प्यार‬ मुझे‬ प्यार से ‪वापस‬ कर दो !!

खुदा से शिकायत शायरी 

अंजान अगर हो तो गुज़र क्यूँ नहीं जाते,
पहचान रहे हो तो ठहर क्यूँ नहीं जाते !!
हर एक बार मना लेते अगर तुम पास होते,
हर एक खता की वजह बता देते अगर तुम साथ होती !!
रोज ख्वाबों में जीती हूँ वो जिन्दगी,
जो तेरे साथ मैनें हकीकत में सोची थी !!
नजरअंदाज उन्हें कर सकू जो नजर के सामने हो,
उनका क्या करू जो दिल में छुपे बैठे है !!
तेरा आधे मन से बात करना,
मुझे पूरा तोड देता है !!
रिश्ते टूट न जायें इस डर से बदल लिया है खुद को,
अपनी ज़िद से ज्यादा रिश्तों को अहमियत दी है मैंने !!
उसके जैसी कोई और कैसे हो सकती है,
और अब तो वो खुद भी अपने जैसी नहीं रही !!

जिंदगी से शिकायत शायरी 

नहीं है शिकवा तेरी बेरुखी का,
शायद मुझे ही तेरे दिल में घर बनाना नहीं आया !!
मुश्किल का मेरी मुश्किल से उनको यकीन आया,
समझे मेरी मुश्किल को लेकिन बड़ी मुश्किल से !!
जिन्दगी तो गुजर ही जाती है,
मोहब्बत से गुजरे तो कितनी अच्छी बात है !!
काश कभी यूँ भी हो की बाजी पलट जाए,
उसे याद सताए मेरी और मैं सुकून से सो जाऊं !!
एक तू है जिसे परवाह नहीं मेरी,
एक मैं हूँ जो परेशान तेरे लिए !!
क्यूँ नहीं महसूस होती उसे मेरी तकलीफ,
जो कहती थी बहोत अच्छे से जानती हूँ तुझे !!
मिलते है बहुत लोग जुबान को समझने वाले,
काश कोई मिले जो धड़कनों को समझे !!
कमाल है इश्क़ उसका भी,
कहती है तेरी दुल्हन को में अपने हाथो से सजाऊँगी !!
कुछ पल का साथ देकर तुमने,
पल पल का मोहताज बना दिया !!
बेखबर जमाना क्यूँ ऐतबार नहीं करता,
तराजु में तौलकर तो कोई प्यार नहीं करता !!

भगवान से शिकायत शायरी 

मत छीन अपना नाम मेरे लब से इस तरह,
इस बेनाम जिन्दगी में तेरा नाम ही तो है !!
मेरी किस्मत का भी कोई जवाब नहीं,
जो अच्छा लगे वही भूल जाता है !!
काश कभी ऐसा भी हुआ होता,
मेरी कमी ने तुझको उदास किया होता !!
तेरे साथ बिता हुआ कल,
भारी है मेरे आज पर !!
इसलिए भी खामोश रहने लगा हूँ मैं आजकल,
क्योंकी उस पर मेरी बात का अब कोई असर नहीं होता !!
बताओ फ़िर उसे क्यूँ नहीं महेसुस होती बैचेनिया मेरी,
जो अक्सर केहती थी की बहुत अच्छे से जानती है वो मुझे !!
अकेले ही काटना है मुझे जिन्दगी का सफ़र,
पल दो पल साथ रहकर मेरी आदत ख़राब ना कर !!
बेपरवाह हो जाते है अक्सर वो लोग,
जिन्हे कोई बहुत प्यार करने लगता है !!
ना वो मेरी तक़दीर में ना मैं उसकी किस्मत में,
फिर भी ना जाने क्यूँ दिल उसे अपना बनाने की सोच में लगा रहता है !!

apno se shikayat shayari 

वास्ता नहीं रखना तो नजर क्यूँ रखते हो,
किस हाल में हूँ ज़िंदा ये खबर क्यूँ रखते हो !!
सूना था ख्वाब अपने होते है,
लेकिन ये भी कमबख्त तेरे निकले !!
हम कोई छोटी सी कहानी नहीं थे,
बस पन्ने ही जल्दी पलट दिए तुमने !!
बोला ना की तेरे बिना जी नहीं सकते हम,
बस इसी बात का फायदा उठाते हो न तुम !!
जैसे परिंदे हंमेशा एक साथ उड़ते है,
काश इन्सान भी यूँ ही साथ रहते !!
कैसे भूल सकता है कोइ किसीको,
जब किसीको किसीकी आदत हो जाती है !!

तुझसे कोई शिकायत नहीं है जिंदगी जो भी दिया है वही बहुत है 

उसको भी हमसे मुहब्बत हो ज़रूरी तो नहीं,
इश़्क ही इश़्क की किम्मत हो ज़रूरी तो नहीं !!
चलो मान लिया की मुझे मोहब्बत करनी नहीं आती,
लेकीन ये बतायो तुम्हें दिल तोडना किसने सिखाया !!
सजा देना तो मुझे भी आता है,
पर उसे तकलीफ पहुंचे ये हमें गँवारा नहीं !!
उसके जैसी कोई दूसरी कैसे हो सकती है,
अब तो वो खुद भी खुद के जैसी नहीं रही !!
आजकल बहुत ‪नाराज़‬ रहते हो हमसे,
कहीं ‎हमारे‬ मनाने के तरीके से ‎मोहब्बत‬ तो नहीं कर बैठे हो !!
देख़ो ज़माना हो गया मग़र मेरी चाहत नहीं बदली,
किसीकी ज़िद नहीं बदली मेरी आदत नहीं बदली !!
चाँद सी सूरत जो रब ने दे दी थी तुमको,
काश रौशन मेरी किस्मत का सितारा करते !!
गुरुर-ए-हुस्न की मदहोशी में उनको ये भी खबर नहीं,
कौन चाहेगा मेरे सिवा उनको उम्र ढल जाने के बाद !!
यही बहुत है की दिल उसको ढुँढ लाया है,
किसीके साथ सही वो नज़र तो आया है !!
मुझे रुसवा ना कर भरी महफ़िल में,
बंद कमरे में चाहे क़त्ल कर दे मेरा !!
हद से बढ़ गया है तेरा नज़र अदाज करना,
ऐसा सलुक न करो की हम भुलने पे मजबुर हो जाये !!

शिकायत तो बहुत है तुझसे ऐ ज़िन्दगी 

तुम्ही से रूठकर तुम्हे ही सोचते रहना,
मुझे तो ठीक से नाराज होना भी नहीं आया कभी !!
तुम वह हो जिसको हम खोना नहीं चाहते,
और हम वोह है जिसके तुम होना नहीं चाहते !!
इतनी भी मनमानियां अच्छी नहीं,
आप सिर्फ अपने ही नहीं हमारे भी हो !!
पगली इतने गुस्से से मत देख मुझे,
मैं तुमसे प्यार करता हूँ दुश्मनी नहीं  !!
सरेआम ये शिकायत है मुझे ज़िन्दगी से,
क्यों मिलता नहीं मिजाज मेरा किसी से !!
मिलते है बहोत लोग जुबान को समझने वाले,
काश कोई मिले जो धड़कन को भी समझे !!
पगली तू भी Freedom 251 की तरह निकली,
पसंद तो आ गई पर पता नहीं मिलेंगी भी या नहीं !!
दुनिया चाँद तक पहुँच गयी और एक मैं हूँ,
पता नहीं तुम्हारे दिल तक कब पहुँच पाऊं !!
शिकायत जिन्दगी से नहीं,
उनसे है जो जिन्दगी में नहीं है !!

लब खामोश है दिल भी उदास है मुद्दतों से जैसे जिंदगी लापता हो 

शिकायत करने से खामोश रहना बेहतर है,
क्यूंकि जब किसीको फर्क नही पड़ता तो शिकायत कैसी !!
तुम तो कहते थे की हर शाम तेरे साथ गुजारेंगे,
तुम बदल गए हो या तेरे शहर में अब शाम ही नहीं होती !!
एक तेरे बगैर ही ना गुजरेगी जिन्दगी,
बता मैं क्या करू सारे जमाने की मोहब्बत लेकर !!
यह मेरी सबसे बड़ी तमन्ना थी,
काश वो भी मेरे नाम की तरह मेरे होते !!
तुमने सोचा ही नहीं,
की कोई सोचता होगा तुम्हारे बारे में !!
तुम्हें अपना कहने की तमन्ना थी दिल में,
लबों तक आते आते तुम ग़ैर हो गए !!
जिंदा हूँ तब तक तो हालचाल पुछ लिया करो,
मरने के बाद हम भी आजाद तुम भी आजाद !
देखा जाए तो अब तक कुछ भी तो खोया नहीं,
फिर भी लगता है की कुछ है जो अब तक मिला ही नहीं !!

शिकायत तो बहुत है 

मैने कभी नहीं कहा की तू भी मुझे बेपनाह प्यार कर,
बस इतनी सी ख्वाहिश है मेरी की तू मुझे महसूस तो कर !!
ना जाने किसके रंग में रंगी होगी वो आज,
दिल यही सोचकर परेशान हुआ जा रहा है !!
जिन्हें साँसों की महक से इश्क़ महसूस न हुआ हो,
वो गुलाब देने भर से हाल ऐ दिल क्या समझेंगी !!
सुना है की दुआ कुबूल करने का तेरा एक वक़्त होता है,
ऐ ख़ुदा अब तू ही बता मैंने उसे किस वक़्त नहीं माँगा !!
हमने सोचा था की बताएँगे सब दुःख दर्द तुमको,
पर तुमने तो इतना भी ना पूछा की खामोश क्यूँ हो !!
जिस तरह ये दर्द सिर्फ मेरा है,
काश उस तरह वो भी मेरी होती !!
आज‬ तो हजारो ‪वादें कर रहे हो मुझे पाने के लिए,
कल एक ‪बहाना‬ ही काफी होगा मुझे छोड़‬ जाने के लिए !!
बहाना क्यूँ तलाश करते हो रूठ जाने का,
बस इतना कह देते की दिल में जगह नहीं है !!
कोई बनता ही नहीं मेरा,
तुम अपनी ही मिसाल ले लो !!
ये नक़ाब तुम्हारे झुठ का उतरेगा जिस दिन,
खुद से नज़रें मिलाने को तरसोगे उस दिन !!
मेरे किस्से में तुम आते हो,
मेरे हिस्से में भी क्यूँ नहीं आते !!
वो दे रही है दिलासे उम्र भर के मुझे,
पर कहीं बिछड़ ना जाए मुझे फिर से उदास कर के !!
वो बोलती थी तुम्हारे ‪प्यार‬ के लिए मैं अपनी जान भी दे दूंगी,
आज ‪वही‬ बोल रही है की छोड़ मुझे मेरी जिन्दगी का सवाल है !!
अगर जुदाई जरुरी है तो बेशक रुठ जाओ ऐ जान,
पर हर बात पर खामोश हो जाना अच्छी बात नहीं !!
आज पास हूँ तो क़दर नहीं है तुमको,
यक़ीन करो टूट जाओगे तुम मेरे चले जाने से !!
हमे पता है की तुम कहीं और के मुसाफिर हो,
हमारा शहर तो यूँ ही बिच में आया था !!
हां मुझे मोहब्बत नहीं आती,
तुम्हे आती है तो करते क्युं नहीं !!
खर्च कर दिया है खुद को पूरा साहब,
वो कहता है की अभी हिसाब अधूरा है !!
काश कैद कर ले वो पगली मुझे अपनी डायरी में,
जिसका नाम छिपा होता है मेरी हर शायरी में !!

इन्हे भी पढ़ें  :

beautiful quotes on life in hindi | beautiful messages on life in hindi

quotes on missing someone in hindi | missing message in hindi

[100+] very heart touching sad quotes in hindi 2 lines | dukh bhari quotes

अनमोल रिश्ते SMS | रिश्ते निभाए जाते हैं, तभी तो रिश्ते कहलाते हैं 

काश कभी ऐसा भी हुआ होता,
मेरी कमी ने तुझे उदास किया होता !!
सुन ‎मेरी‬ खबर न रखने वाले,
फरवरी‬ आ रही है मोहब्बत लेकर !!
यूँ तो कोई शिकवा नहीं मुझे अपनी जिंदगी से,
मगर तुम मेरे होते तो आज जिंदगी कुछ और ही होती !!
खामोशी की वजह बार बार पूछ रही थी,
वजह बतायी तो खुद खामोश हो गई !!
नाकाम मोहब्बत भी बड़े काम की होती है दोस्तों,
दिल मिले ना मिले पर इलज़ाम जरुर मिल जाता है !!
काश तु एक बार तो लगा लेती मुझे अपने सीने से,
फिर तो रब अगर जन्नत में जगह देता तो भी मना कर देता !!
तुम्हारे हर सवाल का जवाब मेरी आँखों में था,
और तुम मेरी जुबान खुलने का इन्तेजार करते रहे !!
मेरा झुकना और तेरा खुदा हो जाना,
यार अच्छा नहीं इतना बड़ा हो जाना !!
किस तरह करे खुद को तेरे प्यार के क़ाबिल हम,
हम आदते बदलते है तो तुम शर्ते बदल देते हो !!
मैं यह नहीं कहता की मेरी खबर पुछो तुम,
खुद किस हाल में हो इतना तो बता दिया करो !!
वो क्या समज पायेंगे प्यार की कशिश,
जिन्होने फ़र्क़ ही नहीं समजा पसन्द और प्यार में !!
जब उसे दर्द होता है तब वो मुझे याद करता है,
अब तुम ही कहो की मैं उसके लिए दर्द मांगू या ख़ुशी ?
तिनका तिनका ज़रा ज़रा है रोशनी से जैसे भरा
हर दिल में अरमान होते तो है बस कोई समझे ज़रा !!
फिर से ग़लतफ़हमियों में डाल दिया,
जाते वक्त मुस्कुराना जरुरी था क्या ?
तू‬ वैसी ही है जैसा मैं ‪‎चाहता‬ हूँ,
बस ‎मुझे‬ वैसा बना दे जैसा तू ‎चाहती‬ है !!
मुझे ‪‎तेरी‬ जैसी नहीं मिलेगी ये मुझे पता है,
लेकिन तू मेरे भी मेरे जैसा ढूंढ के दिखा तो मैं मानु !!
सुनो तुम दिल दुखाया करो इजाजत है,
बस कभी भूलने की बात मत करना !!
उसकी तरक्कियों की कहानी में मैं भी हूँ,
अब देखना ये है की वो सुनाता कहाँ से है !!
ढूंढ तो लेते तुम्हे हम, शहर में भीड़ इतनी भी न थी,
पर रोक दी तलाश हमने क्यूंकि तुम खोये नहीं थे, खोना चाहते थे !!
आज फिर वो हमसे खफ़ा है,
खैर कौन सा ये पहली दफ़ा है !!
मैं वो क्यों बनू जो तुम्हे चाहिए ?
तुम्हें वो कबूल क्यों नहीं जो मैं हूँ ?
किसी को घर से निकलते ही मिल गई मंजिल,
कोई हमारी तरह उम्र भर सफर में रहा !!
नींद से क्या शिकवा जो आती नहीं,
कसूर तो उस चहेरे का है जो सोने नहीं देता !!

इन्हे भी पढ़ें  :

Khwaab Shayari In Hindi | New Shayari On Khwaab

Life Hindi shayari | New Life Hindi shayari 2021| life best quotes for whatsapp

100 Latest Hindi LOVE Sher -o -Shayari (शायरी)

Best Love shayari | New Love shayari

Lovely Hindi Shayari | Love Shayari

Sweet Maa Shayari in hindi for whatsapp

Mausam Shayari | Mausam Hindi Shayari | for Facebook-whatsapp

Miss You Hindi Shayari | Miss U best Shayari For Girlfriend-Boyfriend 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Close Menu