जीवन के लिए जिम्मेदारी पर अनमोल वचन

नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत हैं | फ्रेंड्स इस पोस्ट में हम जिम्मेदारी पर अनमोल वचन का नया कलेक्शन लाये हैं | कुछ लोग डरपोक होते है जब अपने उपर जिम्मेदारिया आती है तो वे अपनी जिम्मेदारियों से हमेशा भागते रहते है. इसी तरह के लोगो के पास सबकुछ होते हुए भी अपने जीवन में दुखी रहते है. जब आप अच्छे काम करेंगे और जिम्मेदार बनेंगे तभी समाज आपको सम्मान देगा । दोस्तों जब जिम्मेदारी की बात है तो जिम्मेदारी कम उम्र में ही पैसा कमाना सिखा देती है और हुनरमंद भी बना देता है.बच्चों को धीरे धीरे छोटे काम और जिम्मेदारियों का काम सौपना चाहिए ताकि वे अपना काम अच्छी तरह से कर पाए.जिससे जीवन में आगे बढ़ने और मुसीबतों का सामना करने में मदत मिले. बच्चो और युवाओ के जीवन में जिम्मेदारी के साथ-साथ अच्छी आदतों को भी शिखानी चाहिए । ताकि वे अपने जीवन में असफलता के लिए किसी और व्यक्ति को जिम्मेदार ना माने | जिम्मेदारी उठाना और निभाना दोनो अलग बाते होती है, लेकिन जो इसे निभाते है उन्हे शायद इनके लिये जो भी कुर्बानियां देनी पड़ती है ये तो वही लोग समझते है जिन लोगोने अपनी जिम्मेदारी निभायी हो, ऐसेही जिम्मेदारी इस महत्वपूर्ण विषय को ध्यान मे रखते हुये आपके लिये जिम्मेदारी पर अनमोल वचन का नए कलेक्शन लाएं है | आशा करतें हैं की इन्हे पढकर जीवन में नैतिक मुल्यो की शिक्षा मिलेगी और साथ साथ आप अपने जीम्मेदारियो के प्रती और अधिक गंभीरता से कार्यरत होंगे।

जीवन के अनमोल वचन

ज़िम्मेदारिया आपको दबाने नहीं बल्कि उठाने आती है।
लोग आपकी कमियां ढूंढते रहेंगे अपनी खूबियां ढूंढने की ज़िम्मेदारी आपकी खुद की है।
ज़िम्मेदार व्यक्ति हार नहीं सिर्फ अपनी गलती मान उसे ठीक करते हैं।
जिम्मेदारी-पर-अनमोल-वचन
जिस क्षण आप अपने जीवन में हर चीज की जिम्मेदारी लेते हैं उस क्षण से आप अपने जीवन में सब कुछ बदल देते हैं।
गैरज़िम्मेदार व्यक्ति अपनी हार का दोष दूसरों पर डालता है वही ज़िम्मेदार व्यक्ति अपनी गलती मान कर उसे ठीक कर लेता है।
हर व्यक्ति का यह कर्त्तव्य है की वह अपनी गलतियों को स्वीकार करें और उन्हें ठीक करने की ज़िम्मेदारी ले।

बेहतरीन अनमोल वचन

सफलता का श्रेय तो हर कोई लेना चाहता है पर असल सुरवीर तो वह व्यक्ति है जो अपनी गलतियों का ज़िम्मेदार खुद को ठहरा सके।
अगर आपको जीत पाने के लिए तैयार होना है तो आपको ज़िम्मेदार होना होगा।
उसका बचपना तुरंत फरार हो जाता है, जब घर का खर्चा उठाते-उठाते वो इकलौता लड़का घर का ज़िम्मेदार हो जाता है।
जिम्मेदारियों ने कुछ ऐसे भी सितम बरसाएं है,सालों तक माँ ने एक ही साड़ी में कई त्यौहार मनाएं है.
छोटी-सी उम्र में ही अपने पैरों पर खड़े हो जाते है,जिम्मेदारियां हो सिर पर तो बच्चे बड़े हो जाते है.
जिम्मेदारियों को उठाने से क्यों घबराता है,जिंदगी में यही तो इंसान को हुनरमंद बनाता है.
जीवन की सबसे बड़ी ख़ुशी उस काम को करने में हैं, जिसे लोग कहते हैं कि यह तुम्हारे बस का नहीं हैं।
कुछ आरम्भ करने के लिए आपका महान होना जरुरी नहीं हैं, लेकिन महान बनने के लिए कुछ आरम्भ करना बहुत जरुरी हैं।

छोटे अनमोल वचन

समझदार वो नहीं जो ईंट का जवाब पत्थर से दे, बल्कि समझदार तो वो हैं जो उन ईटों से अपना आशियाना बना ले।
जीवन में मिलने वाले हर मौके का फायदा लें क्योंकि कुछ चीजें केवल एक बार होती हैं।
आपको कोई भी घर बैठे आकर सफलता देने वाला नहीं हैं, आपको बाहर निकलना होगा और खुद इसे हासिल करना होगा।
जिम्मेदारी को सिर पर पड़ते हुए देखा है, करीब से मैंने बचपन को मरते हुए देखा है.
ज़रा वतन की मिट्टी से भी यारी रख, दिल में बस इतनी सी बात हमारी रख, हर लड़की की एक जैसी इज्जत है जरा कुछ तो अपनी तू जिम्मेदारी रख.

इन्हे भी पढ़ें  :

Prernadayak shayari

सबसे अच्छे अनमोल वचन

भगवत गीता के अनमोल वचन

शिक्षा पर अनमोल विचार

सफलता पर अनमोल विचार

अनमोल रिश्ते SMS

sahas quotes in hindi 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Close Menu